Event

दिल्ली पुस्तक मेला में साक्षी का जय जयकार

Delhi Book Fair 201630 अगस्त 2016 सुबह जे.एम.सी. में बच्चो की उपस्थिति 8 30 बजे से ही शुरू हो गई थी क्यों कि आज उनमें कुछ सीखने की घूमने की कुछ कर दिखाने की ललक दिख रही थी। ऐसा इसलिए था, क्योंकि उन्हे आज ’दिल्ली पुस्तक मेला’ में अपनी शगीदारी दिखानी थी। इनमें कला और साहित्य तो कूट कूट कर भरा है लेकिन ऐसे मौके बहुत ही कम मिलते हैं जिसमें इन्हे अपनी हुनर को दिखाने का और कुछ कर गुजरने का मौका मिलता है। इन बच्चों को जे.एम.सी.  और बचपन सोसायटी ने यह अवसर दिया । वहां बच्चों ने पुस्तक की दुनिया और शिक्षा से जुड़े हर गतिविघियों को देखा सुना और समझा।

जयशंकर मेमोरियल सेंटर के पूर्व छात्रों का सम्मेलन

15 जुलाई 2016 में जे.एम.सी. के प्रागण में पूर्व छात्रों का एक सम्मेलन आयोजित किया गया। जिस में 2009 से 2016 तक पढ़ चुके लगभग सभी विध्यार्थी मौजूद थे जो 10वीं व 12वीं में उत्तीर्ण विध्यार्थि और कुछ  कॉलेज  या कुछ नौकरी करने वाले विध्यार्थी आये थे। बहुत ही उमंग और उल्लास के साथ ये सारे छात्र जे.एम.सी. में आये थे वह सब आपस में एक दूसरे के साथ मिलकर व जे.एम.सी. टीचर्स को मिलने से उनकी खुशी का कोई जवाब नहीं था।

विष्व पुस्तक मेला 2016

12 जनवरी 2016 की सुबह बच्चे इस कदर बेचैन थे कि उस ना भूल जानेवाली यात्रा पर जाने के लिये जो किताबो का संसार कहा जाता है प्रगति मै दान जहां हर वर्ष के षुरुआत में पुस्तक मेला आयोजित किया जाता है। यह 9 जनवरी 2016 से 17 जनवरी 2016 तक थी।

INVITATION LETTER

Title
Type of Content:
Event
Report/ Publication
Workshop
Content
Picture (if any)
Summary (Teaser)
Format – basic, php, html
Publishing:
Promoted to front page
Sticky at the top of lists
Saving:
Save as Unpublished
Save and Publish

Nk;k

जी.आर.सी. में समर कैम्प का आयोजन किया!

जी.आर.सी. में समर कैम्प का आयोजन किया, जिस में 5वीं, 6वीं और 7वीं कक्षा के बच्चों ने हिस्सा लिया। यह कैंप एक सप्ताह चलाया गया जिसमें करीब ५० बच्चों ने जोर शोर से हिस्सा लिया. कैंप में आर्ट, क्राफ्ट, स्टोरी टेलिंग, चत्रकारी, इत्यादि के द्वारा अपना कौशल दिखाया.

Summer Camp 2015

युवा किस प्रकार की सस्ंकृति चाहते है और क्यों ?

जयषंकर मेमोरियल सेन्टर के प्रागंण मे दिनाक 4 अप्रैल 2015 को टी.एस. संकरन मेमोरियल वार्षिक वाद-विवाद प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।
इस प्रतियोगिता में ’युवा किस प्रकार की सस्ंकृति चाहते है? और क्यों?’ पर 15-20 बच्चो ने उत्साहपूर्वक हिस्सा लिया तथा अपने विचारों को रखा। प्रतियोगिता का षुभारम्भ श्रीमति छाया प्रवीण ने मुख्य अतिथितियों के स्वागत के साथ किया जिसमें श्रीमति चित्रा गोपाल, श्री विवेक श्रीवास्तव और श्री षैलेन्द्र गैरोला शामिल थे।

Health Camp during heavy rains

दिनांक 21 सितंबर 2013 के दिन सुबह से ही जी.आर.सी. के मोबिलाइजर राखि, साइरा और बाबी नायक स्वास्थ्य षिविर के लिये षाहीनबाग के हर गलियों के  मरीजो को  जाके  बुलाने में व्यस्त थे। 

Huge numbers turn up for UID application

1 अक्तूबर 2013 के दिन सुबह से ही आधार कार्ड के टोकन लेने के लिये जी.आर.सी. के सामने हजारों लोगों भीड जमा हो गई थी। यह नजारा बिलकुल कोर्इ मेले से कम नहीं था। 9बजे जी.आर.सी. के सभी स्टाफ आगये थे। सुरेष सिंग जी.आर.सी. कोआर्डिनेटर ने पुलिस को अपने मदद के लिये बुलाया। पुलिस ने लोगों को कहा कि सभी लोग लाइन में खडे होने के लिये कहा। तब मोबिलाइजर बाबी और साइरा टोकन लेके बाहर जाते ही अचानक से भीड उनपर उमड पडी पुलिस ने बडि मुषिकल से उन दोनो को अंदर भेजा। और पुलिस ने खुद टोकन बांटा।